केला खाने से अचूक फायदे और नुक़सान

Banana

केला एक ऐसा फल है जो साल के बारह महीनों बाज़ार में उपलब्ध होता है। केला सस्ता और हल्का सभी फलों में होता है। रोज़ाना केला खाने से कमजोरी दूर होती है। केला में दूध और चीनी मिलाकर मिक्सी में फेटकर रोज़ाना नास्ते के साथ लेने से मानव का वजन बढ़ता है। साथ ही साथ दुबला पन को ख़त्म करता है। केला खाने से हमे ऊर्जा मिलती है। आज कल लोग इतना बिजी रहने से अपने स्वास्थ्य का ठीक ध्यान नहीं रखते है, न ठीक से नाश्ता करना न भोजन ठीक से करना ऐसे में नास्ते मे ३ केले खाने से मानव का भर पेट नास्ता हो जाता है। नाश्ता में केले, अनार, चेरी, एप्प्ली को काट कर उसमे चाट मसाला डालकर खाने से हमारी पाचन यंत्र ठीक से काम करता है। स्पोर्ट्स से जुड़े लोग केला का
खूब सेवन करते है।

ऊर्जा में फायदेमंद

केला के अंदर विटामिन “ए” और विटामिन “सी” आदि तत्व उपस्थित होते है। जो हमारे अंदर ऊर्जा पैदा करता है। आज कल के लोग कुश्ती, योगा, दौड़ कर थक जाते है। ऐसे में उनको तुरंत ऊर्जा पाने के लिए केला फल बहुत लाभकारी होता है। छोटे बच्चों को हफ्ते में दो बार केला देने से उनको ताकत मिलती है। केला खाने से हमारा मस्तिष्क ठीक से काम करता है।

फैट पैदा नहीं करता है

केले के अंदर वसा और फैट नहीं होता है। रोज़ाना २ केले को दूध के साथ फेट कर पीने से वजन कम होता है। केला, सेब और अंगूर के खाने के बाद एक गिलास दूध पीने से पतले लोग मोटे हो जाते है, परन्तु उनका वजन नहीं बढ़ता है। केला और दूध में शहद डाल कर पीने से हमारे अंदर अनावश्यक फैट सेल्स और अशुद्धियों को साफ करने में सहायता करता है।

मस्तिष्क की कोशिकाओं को टेंशन रहित बनाता है

आज कल के समय में युवावस्था के लोगो रोज़गार की टेंशन बहुत होती है। क्या काम करे कहा करे किसी भी तरह का काम नहीं मिला हैं। साथ ही साथ घर परिवार की जरूरतों को पूरा कहा से किया जाये। ऐसे में हमारे स्वास्थ्य पर बहुत बुरा असर पड़ता है। रोजाना केला खाना टेंशन को ख़त्म करता है। केला खाना हमें उस तनाव से लड़ने में मदद करता है और हमें सोचने के लिए ऊर्जा प्रदान करता है। केला खाने से हमारे शरीर के अंदर खून की मात्रा बढ़ जाती है साथ ही साथ ताकत आती है। रोज़ाना शहद के साथ एक केला खाने से मस्तिष्क की कोशिकाये खुल जाती है हमारे मस्तिष्क को ठीक प्रकार से कार्य करने में मदद करता है।

पाचन के लिए सहायक

कच्चे केले के अंदर कैल्शियम सब से ज्यादा होता है। जो हमारे हड्डियों को मजबूत बनाता है। आजकल अधिकतर बीमारियाँ हमारी पेट से जुडी रहती है। जैसे किडनी ख़राब होना, पेट दर्द होना आदि। अगर हमारा पेट सही तो हमारा स्वास्थ्य सही रहता है। केला खाने में बहुत ही सिंपल होता है और पचने में और भी ज्यादा आसान यह हमारे पेट से सम्बन्धी कई विकारों को दूर करता है और गैस व अपच की समस्या का निदान करता है। नियमित दोपहर के भोजन के बाद हमे एक केला जरूर खाना चाहिए। जो हमारे भोजन को सरलता से पचा देता है। कच्चा केला खाने से पाचक रसों का स्त्रावण बेहतर तरीके से होता है। साथ ही साथ कच्चा केला कई तरह के कैंसर से भी बचाता है।

अन्य फायदे

● केला और दूध खाने से दाँत सफेद हो जाता है।
● जिस मनुष्य को अल्सर हुआ है उनको कच्चे केले का सेवन रोज़ाना करना चाहिए।
● दस्त लगने पर दही के साथ केला खाने से दस्त से राहत मिलती है।
● गर्भावथा के दौरान गर्भवती महिलाओं को केला भरपूर मात्रा में खाना चाहिए।
● अगर बार-बार पेशाब हो रही है तो केले में देशी घी लगा कर खाने से आराम मिलता है।
● केला पेट में होने वाली कब्ज की समस्या से राहत दिलाता है।
● केले का सेवन खून को पतला कर धमनियों में रक्त का संचालन दुरुस्त करता है।
● बच्चो को रोज़ाना एक केला पक्का खिलाने से सूखा रोग मिट जाता है।
● यदि बच्चों को मिट्टी खाने की आदत है तो केले में शहद मिलाकर खिलाने से ये आदत ख़त्म हो जाती है।

 नुकसान

● केले के छिलके को तुरंत हटाकर खाना चाहिए। वरना नुकसान करता है।
● केले को फ्रीज में रखकर नहीं खाना चाहिए।
● ज्यादा मोटे वालो को केला नहीं खाना चाहिए।
● जिन लोगो को रेशे या बलगम की समस्या रहती है तो उन्हें केले खाने से बचना चाहिए।