गर्मियों में खरबूजा खाने के फायदे

गर्मी का मौसम ऐसा मौसम है जिसके आते ही लोगों को ठन्डे चीजों की मांग बढ़ जाती है। खरबूजा गर्मियों के मौसम में उन्ही मे से एक ठंडा फल है। खरबूजा में ८५ % मिनरल्स और स्वादिस्ट ठंडा पोषक तत्वों से भरपूर होता है। जलवायु और भूमि के कारण खरबूजों के रंग, आकार और स्वाद में परिवर्तन होता है। नदी के किनारे रेत में भी खरबूजों की खूब पैदावार होता है। आपको हमेशा तरोताजा रखता है। और शरीर में पानी की कमी को दूर करता है। खरबूजा विटामिन न केवल अच्छा स्रोत है बल्कि इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट के गुण भी पाए जाते हैं जो ह्र्दय और मस्तिष्क को स्वस्थ्य रखने में लाभकारी है। खरबूजा के बीज को भी सुखाकर खाया जाता है। खरबूजे में पर्याप्‍त मात्रा में पानी होता है जो आपको हाइड्रेट रखता है। कच्चे खरबूजे का रंग हरा होता हैं लेकिन पक जाने पर हल्के पीले-भूरे रंग का हो जाता हैं। हमारे देश भारत के कुछ राज्यों जैसे बिहार, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश की रेतीली भूमि, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, में खरबूजा अधिक पाया जाता है।

त्वचा में चमत्कारी

खरबूजा एक प्राकृतिक फल है लेकिन देखने में बहुत सुंदर लगता है जो हमारी त्वचा को प्राकृतिक सुंदरता प्रदान करता हैं। खरबूजे में त्वचा को निखारने वाले सभी प्रकार के तत्व उपस्थित रहते है। यह फेस के त्वचा के रूखेपन को मिटाता है और दाग धब्बे झाइयाँ आदि दूर करता है तथा पिम्पल्स से बचाता है। खरबूजे के छिलको को पीसकर लेप करने झाईया मिटती है साथ में उम्र के प्रभाव से बचाता है। खरबूजे में भरपूर मात्रा में ऑक्सीडेंट उपस्थित रहता हैं।

गुर्दे में फायदे

रोज़ाना खरबूजा खाने से हमारी किडनी स्वस्थ रहती है। खरबूजे के छिलको को सुखाकर चूर्ण बना ले। १५ ग्राम चूर्ण ३०० मिली. पानी में उबालकर आधा पानी सुबह -शाम पीने से कुछ ही दिनों में गुर्दे का दर्द ख़त्म हो जाता है। यह यूरिन इन्फेक्शन आदि से भी बचाता है।

आँखे और दंत से बचाव

खरबूजा खाने से आँखो मे उपस्थित मेक्यूला को नष्ट होने से बचाता है इससे मोतियाबिंद नहीं होता और नजर कमजोर जैसी समस्या को दूर भी रखता है। विटामिन “ए” आँखें की रोशिनी बढ़ाता है। खरबूजा को चबाकर खाने से दांतों मैल साफ़ हो जाता है।

हार्टअटैक की बीमारी

खरबूजे में एक विशेष प्रकार का तत्व उपस्थित होता है जिसका नाम है एडेनोसीन और एंटीकोएगुलेंट। जो ब्लड सर्कुलेशन को ठीक तरीके काम करता है। यह चोट लगने पर खून को जमने नहीं देता है। इसलिए प्रतिदिन खरबूजे का सेवन करने से दिल की बीमारी नहीं होती है।

अनिद्रा की समस्या

खरबूजा खाने से मस्तिक को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलती है। इससे तनाव मुक्त औ मस्तिक शांत होता है। खरबूजे से मिलने वाले तत्व की मस्तिक नसों के तनाव को कम करके अनिद्रा जैसी समस्या को दूर करने में मदद करते है। यह स्मरण शक्ति तथा मस्तिक की शक्ति में भी वृद्धि करता है। खरबूजा खाने से नींद अच्छी आती है।

वजन घटना

गर्मी में रोज खरबूजे का सेवन करना चाहिए। जिससे वजन कम हो जाता है। क्योकि खरबूजे में केलोरी बहुत कम होती है साथ ही साथ इसमें काफी कम मात्रा में सोडियम, विटामिन पाया जाता है। यह कोलेस्ट्रोल से मुक्त करता है। एक कप खरबूजे में सिर्फ 48 कैलोरी ऊर्जा होती है। इसीलिए इसे खाने के बाद जल्दी भूख नहीं लगती और यह बढ़ते वजन को नियंत्रित करने में काफी मददगार होता है।

कब्ज बचाव

खरबूजा पानी से भरा होता है खरबूजा कब्ज मिटाने में मदद करता है। खरबूजे के टुकडों पर कालीमिर्च व् सेंधानमक डालकर खाने से कफ की शिकायत दूर होती है। पेट के अल्सर होने पर इसका उपयोग लाभदायक होता है। यह शरीर को ठंडक देता है।

अन्य फायदे

१- किडनी को स्वस्थ्य रखने के लिए आप नियमित रूप से खरबूजे का सेवन कीजिए।
२- खरबूजा गर्भवती महिलाओं के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। इसमें निहित फोलेट शरीर से अधिक मात्रा में सोडियम को बाहर जाने से रोकता है।
३- भोजन के बाद खरबूज खाने से बच्चो की बढत अच्छी होती है।
४- खरबूजा सुबह खाली पेट नहीं खाना चाहिए। खाली पेट खरबूजा खाने से उदर में पित्त विकारों की उत्पत्ति होती है।
५- लू लगने पर खरबूजे की मिर्गी पीसकर सिर तथा शरीर पर लगाने से लाभ होता है।
६- खरबूजा डायबिटीज में भी फायदेमंद पाया गया है। यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित कर डायबिटीज के स्तर को सामान्य रखता है।
७- खरबूजा नाखुनो के लिए चमत्कारी होता है।

Add a Comment

Your email address will not be published.

Share