खीरा खाने के फायदे

खीरा खाने के फायदे

खीरे का गुदा त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है। खीरा में न्यूट्रीक होता है जो हमारे त्वचा को खूबसूरत बनाता है। खीरा दुनिया का सबसे बड़ा हदबुत फल है। खीरा में उच्च मात्रा में पानी, सोडियम, ताँबा, कार्बोहाइड्रेट, शुगर, पोटैशियम, मैंगनीज, अमीनो एसिड, फैटी एसिड, फास्फोरस, मैग्नीशियम, बायोटिन, खनिज, विटामिन”के”, विटामिन “बी” और विटामिन”सी” उपस्थित होता है। खीरा गर्मी में खाने से पसीना निकालता है, जो हमारे शरीर के अंदर की गर्मी को पसीने के द्वारा बाहर निकालता है। खीरा हाइड्रेशन को बढ़ाता है। खीरा हमारे रक्त को साफ़ करता है।

खीरा शरीर के हाइड्रेट में फायदेमंद

खीरा शरीर के तापमान को सामान्य रखता है। खीरा शरीर से हानिकारक विषाक्त पदार्थों के निकास द्वार से निकालने में मदद करता है। फलों और सब्जियां, विशेष रूप से, आपके आहार में पानी का एक अच्छा स्रोत होता है। खीरा में १००% पानी से बना होता है। खीरा खाने से हमारा शरीर शुचारू रूप से कार्य करता है।

पाचन और पेट की समस्या में लाभकारी

खीरा में उपस्थित एरैपसिन एंजाइम भोजन को पचाने में बहुत मदद करता है। खीरा पाचन तंत्र और पेट की बीमारी में बहुत लाभकारी है। खीरे का एक कप जूस पीने से पेट के कीड़े मर जाते है। कभी- कभी खीरा कड़वा लगता है। लोग उसको नहीं खाते है। पर उसको खाने से पेट का जलन ख़त्म हो जाता है। खीरे के छिलके में कुकुर्बिटाइन्स पाया जाता है।

कालापन ख़त्म करता है

खीरा एक तरह का आर्युवेदिक क्रीम है। खीरा को शरीर के काले हिस्से में लगते है तो कुछ दिनों में वो साफ़ हो जाता है। खीरा पोटैशियम, सिलिकॉन, मैग्नीशियम आदि खनिजों से भरपूर होता है, जो धूप से हमारी त्वचा की सुरछा करता है। खीरे का रस घाव के निशान को हटाता है। गर्मी में पसीने के कारण कुछ हिस्सा काला पड़ जाता है।

कैंसर में लाभकारी

खीरा पूरे अंग को कैंसर से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है। क्यूकरबिटासिन्स कैंसर थेरेपी के लिए एक आशाजनक लक्ष्य में पाया गया कि क्यूकरबिटासिन्स मानव के कैंसर कोशिकाओं में ट्यूमर के विकास को रोकता है। खीरा विटामिन “सी” से भरपूर होता है जो शरीर को कैंसर से होने वाली क्षति से बचाता है। खीरा प्रोस्टेट, डिम्बग्रंथि, फेफड़ों, स्तन, के कैंसर के खतरे को कम करता है।

खीरा से मुँह से बदबू नहीं आती है

मानव को खीरा खाना एक तरह से वरदान होता है। खीरा के छोटे- छोटे स्लाइस काटे। कुछ देर के लिए मुँह में रखे जिससे बदबू फैलाने वाले बैक्टीरिया का खत्म हो जाता है। खीरे के रस से कुला करने से मुँह का बदबू ख़त्म हो जाती है। गंदी साँस का एक मुख्य कारण है, पेट में ज्यादा गर्मी होना। ऐसे में मनुष्य को रोज़ाना खीरा खाना चाहिए।

ब्लड प्रेशर में फायदेमंद

खीरा के जूस को बासी मुँह पीने से ब्लड प्रेशर में बहुत मदद करता है। खीरा पोटेशियम, फाइबर, मैग्नीशियम से निहित होता है। खीरा एक तरह का प्राकृतिक मूत्रवर्धक है। खीरा शरीर को हाइड्रेट रखने में और धमनियों के दबाव को कम करने में सहायक होता है। गाजर, चुकंदर, खीरा, मूली से बनी मिश्रित सब्जियों को बनाकर रोज़ाना खाना से ब्लड प्रेशर में कमी आ जाती है।

अन्य फायदे

-सिर चकराते समय तुरंत खीरा खाये।
-खीरे के पेस्ट में हल्दी और नींबू की कुछ बूंदे मिलाएं और उसे मुंहासों पर कुछ देर तक लगाकर रखने से बहुत आराम मिलता है।
-खीरा याददाश्त में सुधार और आयु से संबंधित गिरावट से आपके तंत्रिका कोशिकाओं की सुरक्षा करता है।
-खीरे का रस पीने से शरीर की जलन कम होती है।