क्या आप जानते है आलू के ये फायदे

हमारे भारत देश में बहुत सी चीजों की खेती की जाती है इनमे से एक खेती आलू की है। आलू हमारे स्वास्थ के लिए बहुत ही लाभकारी है। आलू सबसे आम और महत्वपूर्ण भोजन स्रोतों में से एक है। आलू में सबसे अधिक मात्रा में स्टॉर्च पाया जाता है। आलू में बहुत अधिक मात्रा में पोटैशियम पाया जाता हैं इसके अलावा आलू में मैग्नीशियम, फास्फोरस, विटामिन ए, विटामिन सी, आयरन और ज़िंक भी उपस्थित होता है। आलू में एंटीऑक्सीडेंट पर्याप्त मात्रा में पाए जाते है। आलू के सेवन से बहुत सी बीमारी से छुटकारा मिलता है तथा फ्री रेडिकल से होने वाले नुकसान से शरीर की रक्षा करते हैं। आलू में कई औषधीय गुण पाया जाता है आलू की सब्जी बनाकर खाई जाती है या फिर चिप्स बनाकर खाए जाते हैं जो कि बच्चों को बहुत पसंद आता है। आलू खाने से डायबिटीज बहुत कम हो जाता है। उच्च जैविक मान वाले प्रोटीन होते हैं। आलू को उबालकर या गर्म रेत अथवा गर्म राख में भूनकर खाना लाभकारी है।

मस्तिष्क में फायदेमंद

आलू में मौजूद खनिज मस्तिष्क फास्फोरस, जस्ता , विटामिन बी, फास्फोरस, जस्ता और विटामिन बी कार्य को सकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं।

मस्तिष्क का उचित काम ग्लूकोज स्तर, विटामिन-बी कॉम्प्लेक्स, ऑक्सीजन की आपूर्ति, के विभिन्न घटकों तथा कुछ हार्मोन, एमिनो एसिड और ओमेगा -3 जैसी फैटी एसिड पर निर्भर करता है। आलू में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा उच्च होती हैं। यह मस्तिष्क को थकने से रोकता है। आलू की वजह से मस्तिष्क में ऑक्सीजन की पूर्ति होती है जो रक्त में हीमोग्लोबिन द्वारा मस्तिष्क में भेजी जाती है।

त्वचा और फेस के लिए फायदेमंद

आधे आलू को कददूकस करके इसमें एक चुटकी हल्‍दी मिलाकर चेहरे पर लगाकर आधे घंटे के लिए छोड़ दें बाद में चेहरा पानी से साफ कर लें| इस फेसपैक को हफ्ते में एक बार जरूर लगाएं आलू और अंडे के फेसपैक को लगाने से चेहरे के पोर्स टाइट होते हैं। आलू-हल्दी का फेसपैक के नियमित उपयोग से त्‍वचा का रंग साफ होने लगता है| आलू-दूध से बना फेसपैक आधे आलू को छीलकर उसका रस निकाल लें और इसमें दो चम्‍मच कच्‍चा दूध मिलाकर अच्‍छी तरह मिक्‍स करके कॉटन की मदद चेहरे और गर्दन पर लगाएं फिर 20 मिनट के बाद इसे धो लें सप्‍ताह में तीन बार इसे लगाने से चेहरे पर फर्क साफ नजर आने लगेगा। आलू के रस से चोट पर लगाने से घाव भर जाते है।

गठिया में चमत्कारी

आलू में उपस्थित मैग्नीशियम और कैल्शियम जैसे विटामिन गठिया से राहत प्रदान करते हैं । इसके आलावा उबलते आलू से प्राप्त पानी गठिया के सूजन और दर्द में सहायक होता है। कार्बोहाइड्रेट और उच्च स्टार्च उपस्थित से ही शरीर के वजन को बढ़ाता है। आलू के सेवन से बहुत सी बीमारी भी दूर हो जाती है।

स्टोन के लिए लाभकारी

आलू में पोटैशियम की मात्रा बहुत अधिक और सोडियम की मात्रा कम होती है। पोटैशियम की अधिक मात्रा गुर्दों से अधिक नमक को शरीर से बाहर निकालती है जिससे गुर्दे के रोगी को लाभ होता है। आलू कैल्शियम और लोहे से समृद्ध होता हैं। आलू में कुछ मात्रा में मैग्नीशियम भी होता है जो गुर्दे और अन्य ऊतकों में कैल्शियम के जमाव को रोकता है। किडनी से ग्रस्त रोगियों के लिए आलू के रस बहुत ही फायदेमंद होता है। आलू का रस मूत्राशय में कैल्शियम का पत्थर बनने नहीं देता।

ब्लड प्रेशर में फायदे

अपच, मधुमेह, पोषक तत्व, तनाव आदि खाद्य सामग्री से उच्च रक्तचाप होता है। इसमें उपस्थित फाइबर और विटामिन सी अपच का इलाज करते है।

आलू में मौजूद फाइबर कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होता है जिससे शरीर में इंसुलिन के कामकाज में सुधार होता है, पोटेशियम 46% रक्तचाप को कम करता है, क्योंकि पोटेशियम एक वैदोडिलेटर के रूप में कार्य करता है रक्तचाप को तनाव से बचाने के लिए आलू का उपयोग करते है। पानी में नमक डालकर बिना छिला आलू उबालें। इससे आलू नमकयुक्त भोजन बन जाएगा। इस प्रकार यह उच्च रक्तचाप में लाभ देता है।

आलू खाने के फायदे

१- तेज धूप, लू से त्वचा झुलस गई हो तो कच्चे आलू का रस झुलसी त्वचा पर लगाने से सनबर्न ठीक हो जाता है।
२- लिवर और गॉल ब्लैडर की गंदगी को निकालने के लिए आलू का जूस काफी मददगार साबित होता है। जापानी लोग हेपेटाइटिस से निजात पाने के लिए आलू के जूस का इस्तमाल करते हैं।
३- कच्चे आलू का रस एलर्जी वाले स्थान पर लगाने से लाभ होता है।
४- आलू के रस के साथ, सेलेरी जूस और खीरे का जूस दो चम्मच मिलाकर पीएंगे तो पेट के रोग कम होने लगेंगे. इस जूस को पीने से एसिडिटी, अल्सर और पेट में जलन जैसी समस्याएं दूर होने लगेंगी ।
५- आलू या उसके पत्तों का काढ़ा बनाकर पिलाने से पीलिया दूर हो जाता है।
६- आलू का रस काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। जिसे एसिडिटी की समस्या हो इसके लिए इसके रस को रोजना आधा कप पिएं। इससे आपको लाभ मिलेगा।
७- कच्चे आलू का रस पीने से दाद ठीक हो जाता है।
८- बालों का पुराना रंग हटाकर नया रंग अप्लाई करना चाहते हैं तो भी आलू का रस आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। यह बालों को ब्लीच करने का काम करता है।
९- बढ़ते बच्चों के लिए आलू पौष्टिक आहार है। आलू का रस दूध पीते बच्चों और बड़े बच्चों को पिलाने से वे मोटे-तगड़े हो जाते हैं। आलू के रस में मधु मिलाकर भी पिलाया जा सकता है।
१०- बाल बहुत अधिक झड़ रहे हैं तो भी आलू का रस एक कारगर उपाय है. इसे नारियल तेल और जैतून के तेल में मिलाकर लगाने से फायदा होगा।
११- ह्रदय की बिमारी और स्ट्रोक से बचने और इसे कम करने के लिए आलू सबसे अच्छा उपाय है। यह नब्ज़ के अवरोध, कैंसर, हार्ट अटैक और ट्यूमर को बढ़ने से कम करता है।
१२- कमर दर्द में कच्चे आलू के गूदे को पीसकर पट्टी में लगाकर कमर पर बांधने से कमर दर्द दूर हो जाता है।

आलू स्वाथ्य के लिए हानिकारक

१- खराब या सड़े हुए आलू ना खाएं क्‍योंकि ये शरीर में जहरीला प्रभाव डाल सकते है।
२- गर्भवती महिला कच्चे आलू का सेवन न करे।
३- आलू के पत्ते और ग्रीन आलू अक्सर जहरीले होते हैं, क्योंकि उनमें सोलनिन, चैकोनिन और आर्सेनिक जैसे अल्कलॉइड होते हैं। उन रसायनों की अधिक मात्रा घातक साबित हो सकती है।
४- मासिक समस्या में आलू का सेवन नहीं करना चाहिए।
५- ज्यादा दस्त आने पर भी आलू का सेवन नहीं करना चाहिए।

Add a Comment

Your email address will not be published.

Share