अदरक के औषधीय गुण और अदरक के फायदे

अदरक के औषधीय गुण और अदरक के फायदे

अदरक में कैल्शियम तत्व उपस्थित होता है। जो पेट के लिए उपयोगी है। अदरक सुखा हुआ हो, तो इसकी तासीर बहुत गर्म होती है। अगर अदरक गीला हो तो इसकी तासीर ठंडी होती है। इसके अलावा इसमें एंटी-सिव गुण अदरक बहुत शक्तिशाली जड़ी बूटी है। अदरक एक तरह की जड़ी बूटी है। जो कि हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होता है। अदरक को हर सब्जी में डालने पर स्वाद अच्छा हो जाता है। यह बलवर्धक भी है। अदरक विश्व की हर एक की रसोई मे होता है। अदरक से हम कई चीजे बना सकते है। अदरक की सब्जी बने पर हम लोग मजे कर के खाते है।

जुकाम में फायदेमंद

अदरक जुकाम पैदा करने वाले बैक्टीरिया को नष्ट करती है। अदरक, अजवाइन, मेथी, सेंधानमक, तुलसी की ५ पत्त्ति को एक गिलास पानी में मिक्स करके उबलने के लिए गैस पर रख दीजिये उसको खूब पकने के बाद उसका सेवन किया जाये। इस सूप पीने से बैक्टीरिया कभी भी हमारे बॉडी के अंदर प्रवेश न कर सके।

पाचनतंत्र में फायदेमंद

अदरक खाने से पेट के अल्सर में बहुत आराम मिलेगा। गैस बनने पर अदरक का रक पीने से आराम मिलता है। उल्टी महसूस होने तक ताजा अदरक को छीलकर उसको १५ मिनट तक चबाये इससे आप को आराम मिलेगा। पेट से संबंधी सारी परेशानी दूर होती है। अदरक पाचनतंत्र को बहुत मजबूत बनाती है।

कोलेस्ट्राल में लाभकारी

अदरक से कोलेस्ट्राल कंट्रोल होता है। तथा खून को बढ़ाता है। अदरक के जूस को रोज़ाना इस्तेमाल करने से लोगो का कोलेस्ट्रॉल हमेशा कम बनाये रखा है। अदरक हृदयाघात की आशंका से आपको बचाता है। खून का थक्का अदरक जमने नहीं देता है।

अन्य फायदे

१- कॉस्मेटिक प्रोडक्ट और सोप बनाने में भी अदरक यूज़ होता है।
२- कान में दर्द हो तो अदरक के रस को गुनगुना करके कान में डाले।
३- एंटी वायरल और एंटी फंगल गुण होने के चलते अदरक ठंड, फ्लू आदि से बचाव करता है।
४- काम के दौरान नींद आए तो एक चुटकी सूखा अदरक गरम पानी में डाल कर पीने से सुस्ती चली जाती है।

नुक्सान

१- बवासीर होने पर अदरक नहीं खाय।
२- अदरक को ज्यादा से ज्यादा खाने पर मुँह में छाले निकल आते है।
३- अदरक वाली ज्यादा चाय पीने से उल्टी आती है।
४- उंगलियाँ सूजी हो तो अदरक नहीं खाना चाहिए।